Long Shayari In Hindi

Long Shayari Sad Love Romantic – Latest Long Shayari in Hindi

Jo Saaz Sad Long Shayari

जो साज-ए-मोहब्बत है दिल में उन तक इसे पहुचाने को

एक सुर छिड़ा है महफ़िल में ग़ज़ल की बूंद छलकाने को,

 

ये जान जो अभी तक बाक़ी है तेरे ही काम आये साकी

बस एक अदा ही काफी है इस दिल पे क़यामत ढाने को,

 

सहरा में कली खिल जाएगी हर जान में जान आ जाएगी

बस देर मेरे उस हमदम की है ज़ुल्फ़ घटा लहराने को,

 

पुरनूर जबीं रुखसार चमन होठों से चमके गुलाये सोखी

शानों पे बिखरती ये जुल्फें काफी हैं सांसें महकाने को,

 

गर होगा दुआ में मेरी असर मांगेंगे तुम्हे बेख़ौफ़

ये जान भी फना हो जाये मगर परवाह नहीं दीवाने को!!


Sad Love Long Shayari

आतिश-ए-इश्क में हर वक़्त जला करते हैं

जो मोहब्बत में दिल-ओ-जान फना करते हैं,

 

फूल,कलियों,सहर,और समर सब के सब

उनकी मदहोश अदाओं पे मरा करते हैं,

 

हमको रहता है हर वक़्त वफाओं का ख़याल

जाने क्यूँ लोग मेरे साथ दगा करते हैं,

 

वो कभी हुश्न के सागर में नहीं खोते हैं

जम-ए-उल्फत जो निगाहों से पिया करते हैं,

 

हर मुसीबत से खुदा उनको बचाता है

माँ के आँचल के साए में जो लोग रहा करते हैं!!


Best Long Shayari

मत पूछ बारे में उसके मैं बताना नहीं चाहता

अब और हक उसपर मैं जताना नहीं चाहता,

 

कमबखत ये दिल मुझे दर्द बहोत देता है

यादों में उसकी आँसू मैं बहाना नहीं चाहता,

 

बडे अजीज अकसर वो कहते है खुदको

फोकट मे किंमत मेरी मैं दिखाना नहीं चाहता,

 

‘गर थोडा सा मुस्कुरा देते तो गम क्या था

पल अब ये जुदाई के मैं गंवाना नहीं चाहता,

 

कभी मिल जाए सामने तो कहना हम ठीक है

फिर मिलनें का कोई मैं बहाना नहीं चाहता,

 

अब उसके नाम से भी मुझे नफरत सी होती है,

दुश्मनी का रिश्ता उससे मैं निभाना नहीं चाहता,

 

वो कौन थी वो क्या थी क्या कहूँ चलो छोड़ो

उसका तो नाम भी जुबां पे मैं रखना नहीं चाहता,

 

अब कोई कह भी दो उनको दफा हो जाये दिल से

खुद का ही मकान गैरो से मैं भरना नहीं चाहता,

 

बहोत करता हूँ याद उसको मगर छुपाए रखता हूँ

“नादान” इस दिल को और मैं सताना नहीं चाहता…


Long Shayari

दिल को दिल रूह को तस्कीं मिला करती है

काम वो आपके आँचल की हवा करती है,

 

सोचता हूँ के ना देखूं तेरी ओर मुड़कर

फिर भी कमबख्त ये नजर है के खता करती है,

 

तेरी यादों से है रोशन मेरे दिल की दुनिया

ये वो शमा है जो हर वक़्त जला करती है,

 

हर मुशीबत से खुदा क्यूँ ना बचाए मुझको

मेरी माँ रोज नमाज़ों में दुआ करती है,

 

है उसी नरगिसी जुल्फों का कमर शैदाई

खुसबू-ए-जुल्फ जो सांसों में बसा करती है !!


Heart Broken Shayari In Hindi

सितम शब का तुमको सहर में मिलेगा

यहाँ प्यार प्यारे ज़हर में मिलेगा,

 

ये दुनिया ये रिश्ते सवालों को छ़ोड़ो

असल में सभी कुछ सिफर में मिलेगा,

 

है दीवान बदमस्त ग़ज़लें भी धुत्त हैं

मग़र शेर मेरा बहर में मिलेगा,

 

न ढूँढो उसे तुम समंदर किनारे

वो शायर है डूबा लहर में मिलेगा,

 

दिखेगा वो कैसे किसी को शिखर पर

वो राही है केवल सफ़र में मिलेगा,

 

दुआओं का कोई निशां ना दिखेगा

तुम्हें अक्स इनका असर में मिलेगा,

 

न पूछो न जानो इसे रम्ज़ मानो

जो अपना है वो सिर्फ़ घर में मिलेगा,

 

गिले शिकवे छोड़ो मुआफी क़ुबूलो

न जाने कोई किस दहर में मिलेगा,

 

युँ कहने में सुनने में रखा नहीं कुछ

मज़ा गुफ्तुगू का नज़र में मिलेगा,

 

अजीब-ओ-अज़ाब-ए-मरज़ है मुहब्बत

हुई है जिसे वो फ़िकर में मिलेगा,

 

उसे चाहें जितना भी कोसूँ ए यारों

‘असद’ फिर भी उसके शहर में मिलेगा !!